गुरुवार, 2 अप्रैल 2015

'अंधेरे में' : पुनर्पाठ_ नाट्य प्रस्तुति _नुक्कड़ नाटक


'अंधेरे में' नाट्य प्रस्तुति
उच्च शिक्षा और शोध संस्थान, दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा, हैदराबाद में संपन्न 'मुक्तिबोध की कविता 'अंधेरे में' : अर्धशती समारोह' विषयक त्रिदिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी के अवर पर 28 मार्च 2015 को चिरक इंटरनेश्नल के बाल कलाकारों द्वारा प्रस्तुत 'अंधेरे में' की नाट्य प्रस्तुति.
Posted by Neeraja Gurramkonda on 2 अप्रैल 2015