शनिवार, 7 सितंबर 2013

लोकार्पण : "सूँ साँ माणस गंध" : चित्रावली


चित्र देखने के लिए start slide show ( स्लाइड शो प्रारम्भ करें) बटन  पर क्लिक करें .

6 सितंबर 2013 को सायंकाल प्रो. दिलीप सिंह ने दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा, हैदराबाद में आयोजित साहित्य मंथन और श्रीसाहिती प्रकाशन के संयुक्त समारोह में ''सूँ साँ माणस गंध'' [कविता संग्रह:2013:ऋषभ देव शर्मा] को लोकार्पित किया.अध्यक्षता प्रो. एम. वेंकटेश्वर ने की .डॉ. राधे श्याम शुक्ल ने आशीर्वचन कहे और गुरुदयाल अग्रवाल ने शुभकामना दी. संचालन लक्ष्मी नारायण अग्रवाल ने किया. 



कवि का सारस्वत सम्मान भी किया गया. 



साथ ही, भाषाचिंतक प्रो. दिलीप सिंह अभिनंदन ग्रंथ ''भाषा की भीतरी परतें'' की लेखकीय प्रतियां भी अभिनंदित विभूति के सान्निध्य में प्रधान संपादक डॉ. ऋषभ देव शर्मा के द्वारा ग्रंथ के सहयोगी हैदराबाद स्थित लेखकों को सधन्यवाद भेंट की गईं. 


संयोजन डॉ. जी. नीरजा तथा अन्य आत्मीयों ने किया.

[चित्र सौजन्य : लिपि भारद्वाज]