बुधवार, 23 जुलाई 2014

प्रो. दिलीप सिंह की पुस्तक ‘कविता पाठ विमर्श’ का लोकार्पण 26 को



हैदराबाद, 23/07/2014(मीडिया विज्ञप्ति).

यहाँ दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा के खैरताबाद स्थित परिसर में आगामी शनिवार, 26 जुलाई को सायं 5 बजे प्रसिद्ध साहित्य समीक्षक और भाषावैज्ञानिक प्रो. दिलीप सिंह की पुस्तक ‘कविता पाठ विमर्श’ के लोकार्पण समारोह का आयोजन किया जा रहा है. 

समारोह की अध्यक्षता ‘भास्वर भारत’ के संपादक डॉ.राधे श्याम शुक्ल करेंगे. इस अवसर पर अंग्रेजी एवं विदेशी भाषा विश्वविद्यालय के पूर्व हिंदी विभागाध्यक्ष प्रो. एम. वेंकटेश्वर मुख्य अतिथि होंगे तथा इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय के प्रो. सत्यकाम एवं केंद्रीय हिंदी निदेशालय के डॉ. एच. सुब्रमण्यम बतौर विशेष अतिथि उपस्थित रहेंगे. 

प्रो. दिलीप सिंह ने एक मुलाकात में बताया कि वाणी प्रकाशन द्वारा प्रकाशित उनकी पुस्तक ‘कविता पाठ विमर्श’ में कविता की भाषावैज्ञानिक विवेचना के सर्वथा नए प्रतिमान स्थापित करते हुए हैदराबाद के 15 कवियों की कविताओं का विस्तार से पाठ विश्लेषण किया गया है. हैदराबाद के जिन हिंदी-उर्दू रचनाकारों की कविताओं का इस पुस्तक में विश्लेषण किया गया है उनमें ओम प्रकाश निर्मल, कमल प्रसाद कमल, राजा दुबे, इंदु वशिष्ठ, प्रतिभा गर्ग, मखदूम मोईनुद्दीन और वेणुगोपाल जैसे दिवंगत साहित्यकारों के अलावा नई-पुरानी पीढ़ी के जनकवि दुलीचंद शशि, नेह्पाल सिंह वर्मा, नरेन्द्र राय, शशि नारायण स्वाधीन, साकिब बनारसी, किशोरीलाल व्यास नीलकंठ, बालकृष्ण शर्मा रोहिताश्व और ऋषभ देव शर्मा जैसे रचनाकार शामिल हैं. 

कार्यक्रम की संयोजक डॉ. गुर्रमकोंडा नीरजा ने समस्त साहित्य प्रेमियों से इस समारोह में भाग लेने का अनुरोध किया है.